मंगलवार, 31 अगस्त 2010

आश्चर्य...


खिड़की से खड़े, पेड़ ताकते हुए..
उस पेड़ को भूल जाना...।
छोटी लाल-गर्दन की चिड़िया का उस पेड़ पर आना-बैठना-उड़ जाना...
पेड़ का उड़कर दृश्य में वापिस आ जाना है।

4 टिप्‍पणियां:

डिम्पल मल्होत्रा ने कहा…

बात सोचने की है पेड़ तो फिर वापिस आ जायेगा..अभी चिड़िया को देखना...

बाबुषा ने कहा…

hmmm...

कविता रावत ने कहा…

bahut sundar anutha chitran..

Matangi Mawley ने कहा…

Mind sees that which it wants to see... Beautiful!

आप देख सकते हैं....

Related Posts with Thumbnails